रोजाना आंवले का मुरब्बा खाने के यह अदभुद फायदे नहीं जानते होंगे आप

आंवले का मुरब्बा

आंवला खाना सेहत के लिए  बहुत ही गुणकारी है। आंवले का आचार ,कच्चा या मुरब्बा खाया जाता है।  आंवले का सेवन कई लोग जूस के रूप में भी करते हैं। आंवला सेहत के  लिए  बहुत ही उत्तम माना जाता  है। आंवले का सेवन करने से कई तरह के रोगों से राहत मिलती है। आंवले का मुरब्बा बनाने के लिए इसमें चीनी का उपयोग किया जाता है। आंवला मुरब्बा लम्बे समय तक रखा जा सकता है। इसका सेवन यदि रोज़ सुबह खाली पेट  किया जाए तो बहुत ही लाभकारी साबित होगा। आज हम आपको आंवला मुरब्बा खाने से होने वाले अनोखे  फायदों के बारे में बताने जा रहे हैं। आंवला मुरब्बा खाने के फायदे :

1 .   आंवले का मुरब्बा खाने से त्वचा में निखार आता है। आंवले का मुरब्बा अगर रोग सुबह खाली पेट एक खाया जाए तो इससे बढ़ती उम्र में       रोकथाम होती है। आंवले में एंटीएजिंग गुण पाया जाता है जिससे हमे चेहरे के सम्बंदित कई बिमारियों से राहत मिलती है।

2.   आंवले का मुरब्बा खाने से लम्बे समय से चली आ रही कब्ज की समस्या से राहत दिलाने में मदद करता है। आंवले का मुरब्बा खाने के   दूध का सेवन करने से कब्ज की परेशानी दूर होती है। आंवले के मुरब्बे में बहुत से पौष्टिक तत्व पाए जाते है जो पेट में कब्ज की समस्या उत्पन्न नहीं होने देतें हैं। इसलिए यदि आप कब्ज की समस्या से परेशान हैं तो आंवले का मुरब्बा हर रोज़ सुबह खली पेट खाने के बाद एक गिलास दूध अवश्य पीये। इससे कब्ज से राहत मिलेगी।

3.   आंवले का मुरब्बा बहुत सी बिमारियों को ठीक करने के लिए लाभकारी है। आंवले का मुरब्बा खाने से आँखों की रौशनी बढ़ती है। आंवले का सेवन रोज़ करने से आँखों सम्बंदि बीमारियां ठीक होती है और यह आँखों की रौशनी बढ़ाने में भी बहुत मदद करता है।

 

4.  आंवले का मुरब्बा खाने से पाचन शक्ति बढ़ती है। आंवले का मुरब्बा पेट को खाना खाने के बाद पाचन शक्ति को बरकरार रखने में मदद करता है। यह पेट में होने वाले भारीपन से छुटकारा दिलाता है। इसलिए यदि आप चाहते हो की पाचन शक्ति ठीक रहे तो रोजाना आंवले के मुरब्बे का सेवन जरूर करें।

 

5.  आंवले के मुरब्बे का सेवन करने से समय से पहले आने वाले सफ़ेद बालों की रोकथाम होती है। आंवले का मुरब्बा खाने से बालों का रंग काला होने के साथ-साथ बाल घने लम्बे और मुलायम भी बनते हैं। आंवला बालों के लिए तो एक वरदान के रूप में माना जाता है।

 

6 . बबासीर की बीमारी से काफी लोग परेशान रहते हैं। बबासीर के इलाज के लिए रोज़ सुबह आंवले के मुरब्बे का सेवन करने से राहत मिलती है। बबासीर को ठीक करने के लिए लगातार तीन महीने तक आंवले का मुरब्बा रोज़ाना खाएं। आपको राहत मिलेगी।

Leave a Reply

Top